स्वस्थ रहने के लिए तीन-चार बार हाथ जरूर धोएँ

Monday, November 2, 2015 - 12:57

हमारा स्वास्थ्य हम पर ही निर्भर करता है, यदि हमें और अपने परिवार के लोगों को स्वास्थ रखना है तो हमें व परिवार के लोगों को दिनभर में कम से कम तीन से चार बार हाथ साबुन से जरूर धोने चाहिए। आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि दिनभर में आपके हाथों में इस दौरान लगभग पाँच हजार रोगाणु मौजूद होते हैं? जी हाँ, लेकिन आप उन्हें अपनी आँखों से देख नहीं सकते इसलिए आप उनके बारे में चिंतित नही हैं। पर हमें विश्वास है कि अगर आप उन्हें देख पाते तो, आप दिनभर में लगभग 20 बार अपने हाथों को जरूर धोते। आपको अपने हाथों को दिन में तीन से चार बार जरूर धोने चाहिए, भले ही आपने कोई गन्दी चीज छुई हो या नहीं। आप रोगाणुओं को देख नहीं सकते तो इसका यह मतलब बिल्कुल नहीं है कि वो आपकी हथेलियों पर मौजूद नहीं हैं। यदि आपको अपनी सेहत के बारे में थोड़ी सी भी चिन्ता हो तो कुछ कामों को करने के बाद अपने हाथों को साबुन से धोना बिल्कुल भी न भूलें।

 

किस-किस समय धोने चाहिए अपने हाथ:-

 

1. खाने से पहले- खाने से पहले हाथों को धोना न भूलें नहीं तो खाने से पहले मात्र एक बाइट के साथ आपके हाथों में लगे कीटाणु आपके मुँह द्वारा पेट में जा सकते हैं और आप बीमार पड़ सकते हैं।

 

2. पकाने से पहले- महिलाएँ अपने परिवार के लिए बना रही खाने से पहले हाथ जरूर धोएँ नहीं तो उसमें कीटाणुओं का वास हो सकता है और आपके साथ परिवार के लोग बीमार पड़ सकते हैं।

 

3. बाथरूम के बाद- बाथरूम से निकलने के बाद आपने हाथों को केवल पानी भर से नहीं बल्कि साबुन से धोना चाहिए। बाथरूम का दरवाजा, नल, फर्श, टिशू या फिर सिंक आदि में काफी सारे कीटाणु होते हैं।

 

4. नाक साफ करने के बाद- जब आप बीमार पड़ते हैं तो इसका मतलब है कि बैक्टीरिया और वायरस ने आपके इम्यून सिस्टम पर आक्रमण कर रखा है। जितनी बार भी आप छींकते, खाँसते या नाक साफ करते हैं, उतनी ही बार कीटाणु आपके आस-पास फैलते हैं। जिनसे दूसरो को खतरा रहता है।

 

5. घर का कूड़ा फेंकने के बाद- कूड़े में दुनिया भर के कीटाणुओं का वास रहता है, जो आपको बीमार कर सकता है। भले ही आपने कूड़े को सीधे तौर पर न भी छुआ हो लेकिन कूड़े की पन्नी या फिर जिसमें आप कूड़ा डालते हैं, वह कीटाणुओं से भरा रहता है। इसलिए हाथ धोना न भूलें।

 

6. डाइपर या बच्चे के बाथरूम के बाद- अपने बच्चे का डाइपर चेंज करने के बाद या फिर उसे पॉटी करवाने के बाद अपने हाथों को जरूर साबुन से धोएँ। ये सभी चीजें गन्दगी का भण्डार हैं।

 

7. पालतू जानवरों को छूने के बाद- पालतू जानवरों के शरीर में अन्य प्रकार के रोगाणु होते हैं इसलिए अपने हाथों को जब भी उनके शरीर पर सहलाएँ तो, हाथों को साबुन से जरूर धोएँ।

 

8. बीमार व्यक्ति के पास जाने के बाद- अगर आप अपने किसी बीमार दोस्त या परिवार के सदस्य से मिल कर घर वापस आ जाएँ तो, न केवल अपने हाथों को ही धोएँ बल्कि अच्छा होगा कि आप नहा लें। इससे रोगाणु आपके घर में नहीं फैलेंगे।

 

साभार : राष्ट्रीय सहारा 31 अक्टूबर 2015

TAGS